ज़िन्दगी Zindagi Lyrics In Hindi - Yuvvraaj | Srinivas

ज़िन्दगी Zindagi Lyrics In Hindi - Yuvvraaj | Srinivas

Zindagi Lyrics In Hindi, Sung By Srinivas, Lyrics Are Written By Gulzar. While Its Music Is Given By A.R. Rahman.

🎧 Song Credits:
Song Title: Zindagi Lyrics
Singer: Srinivas
Lyrics: Gulzar
Music Director: A.R. Rahman
Music Label: Tips Official
🎬 Movie Credits:
Movie: Yuvvraaj (2008)
Starring: Salman KhanAnil KapoorKatrina Kaif, Zayed Khan, Boman Irani, Mithun Chakraborty & Aushima Sawhney
Directed By: Subhash Ghai
Produced By: Subhash Ghai
Language: Hindi
Country: India
Release Date: 21 November 2008

ZINDAGI LYRICS IN HINDI

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई

तू कहाँ खो गई
तू कहाँ खो गई
कोई आया नहीं
दोपहर हो गई
कोई आया नहीं

ज़िन्दगी ज़िन्दगी

दिन आये, दिन जाए
सदियां भी गिन आये
सदियां रे

तन्हाई लिपटी हैं
लिपटी हैं साँसों की
रसिया रे

तेरे बिना बड़ी प्यासी हैं
तेरे बिना हैँ प्यासी रे
नैनो की दो सखियां रे
तनहा रे मैं तनहा रे

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई

ज़िन्दगी ज़िन्दगी

सुबह का कोहरा हैं
शाम की धूल हैं
तन्हाई हैं

रात भी ज़र्द हैं
दर्द ही दर्द हैं
रुस्वाई हैं

कैसे कटें साँसे उलझी हैं
रातें बड़ी झुलसी झुलसी हैं
नैना कोरि सदियाँ रे
तनहा रे मैं तनहा रे

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई

तू कहाँ खो गई
कोई आया नहीं
दोपहर हो गई
कोई आया नहीं

ज़िन्दगी ज़िन्दगी
क्या कमी रह गई
आँख की कोर में
क्यूँ नमी रह गई..!

VIDEO OF ZINDAGI SONG :


ZINDAGI LYRICS IN ENGLISH

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai

Tu Kahaan Kho Gai
Tu Kahaan Kho Gai
Koi Aaya Nahin
Dopehar Ho Gai
Koi Aaya Nahin

Zindagai Zindagi

Din Aaye, Din Jaaye
Sadiyaan Bhi Gin Aaye
Sadiyaan Re

Tanhai Lipti Hain
Lipti Hain Saanson Ki
Rasiya Re

Tere Bina Badi Pyaasi Hain
Tere Bina Hain Pyaasi Re
Naino Ki Do Sakhiyaan Re
Tanha Re Main Tanha Re

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai

Zindagi Zindagi

Subah Ka Kohra Hain
Shaam Ki Dhool Hain
Tanhai Hain

Raat Bhi Zard Hain
Dard Hi Dard Hain
Ruswai Hain

Kaise Katein Saanse Uljhi Hain
Raatein Badi Jhulsi Jhulsi Hain
Naina Kori Sadiyaan Re
Tanha Re Main Tanha Re

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai

Tu Kahaan Kho Gai
Koi Aaya Nahin
Dopehar Ho Gai
Koi Aaya Nahin

Zindagi Zindagi
Kya Kami Reh Gai
Aankh Ki Kor Mein
Kyun Nami Reh Gai..!